Shampoo ka Business kaise start kre in Hindi/शैंपू बनाने का अपना बिजनेस शुरू करें

Shampoo ka Business kaise start kre in Hindi

Shampoo ka Business kaise start kre in Hindi/शैंपू बनाने का अपना बिजनेस शुरू करें:

ऐसे बहुत से कारण हो सकते हैं जिसकी वजह से कई लोग अपना प्रोडक्ट (product) खुद सीख कर बनाना चाहते होंगे, खासतौर पर घर की ladies अगर ऐसा सोचती है कि हम खुद से अपना शैंपू बनाना चाहते हैं अपने घर के उपयोग के लिए, तो मैं माफी चाहता हूं. क्योंकि यह एक लंबा प्रोसेस (process) है जो कि बिजनेस स्टार्ट करने के purpose से लिख रहा हूं.
यहां मैं आपको बता रहा हूं कि कैसे आप शैंपू का प्रोडक्शन बहुत ही कम लागत में अपने घर से ही शुरु कर सकते हैं. तो चलिए सीधे टॉपिक पर आते हैं और बात करते हैं “Shampoo ka Business kaise start kre in Hindi”.

शैंपू का उपयोग कहां कहां:

शैंपू बालों की धूल मिट्टी, तेल आदि साफ करने के लिए उपयोग होता है. बालों को अच्छी तरह से सफाई रखने और उनकी अच्छी देख बाल के लिए बाजार में कई तरीके के शैंपू उपलब्ध होते हैं. फीमेल एंड मेल हेयर सैलून (female & Male hair saloon) और घरों में शैंपू का उपयोग किया जाता है.

प्रोडक्शन (Production):

शैंपू का निर्माण बहुत ही सरल प्रक्रिया है और जो- जो केमिकल आपको चाहिए वह आराम से आपको बाजार में मिल जायेंगे. शैंपू बनाने में किसी तरह का कोई मशीन की जरूरत नहीं होती चाहे आप अपने घर के लिए बना रहे हो या फिर मार्केट में sell करने के लिए. लेकिन जब आपको लगे कि हमारा प्रोडक्शन बढ़ा देना चाहिए तब आप मशीन भी खरीद सकते हैं, इससे आपका per day प्रोडक्शन बढ़ जाएगा.

सबसे अहम जो केमिकल है शैंपू बनाने के लिए वह है डिटर्जेंट, चाहे तो organic soap से हो या फिर सिंथेटिक (synthetic).
शैंपू बनाने की प्रक्रिया लिक्विड डिटर्जेंट (Liquid Detergent) बनाने की विधि से मिलती जुलती है.

 

1). Nitrosol/ Antisol or C.M.C.
2). Sulphonic Acid
3). Caustic Soda
4). Soda Ash
5). Laural Rice
6). Texapon and S.T.P.P.
7). Formalin
8). Fragrance (Perfume)
9). Colorant
10). Water
11). Aloevera Gel
12). Vitamin- E
13). Glycerin
14). Pacol or Antisol 1kg.

 

शैंपू बनाएं:

1). एक कटोरे में थोड़ा कास्टिक सोडा लेकर उसमें पानी डाल कर गीला कर लें (Bowl 1).
2). अब सोड़ा भस्म (Soda ash) को भी दूसरे कटोरे में लेकर उसमें पानी डाल कर भीगो लें (Bowl 2).

Shampoo ka Business kaise start kre in Hindi

3). STPP को भी तीसरे कटोरे में भिगोकर रखें (Bowl 3)
4). Laurel rice को भी पानी में भिगोकर चौथे कटोरे में रखें (Bowl 4)

5). एक बाल्टी लेकर उसमें Sulphonic acid और Texapon डालें और अच्छी तरह से मिला लें (Bucket 1).
6). अब आपको 30 मिनट तक इंतजार करना पड़ेगा.
7). एक 30 लीटर की बाल्टी ले उसे साफ पानी से आधा भर दें (Bucket 2).
8). अब बाल्टी में धीरे-धीरे Natrozol डालते जाएं और इसको मिलाते भी रहे.
9). अब पहले Bowl 1, फिर Bowl 2, फिर Bowl 3 और फिर Bowl 4 उस बड़ी बाल्टी में डाल दें (Bucket 1).
10). अब Bucket 1 मिश्रण को Bucket 2 में डालें और कम से कम 10 से 15 मिनट तक अच्छी तरह से मिलाते रहें.
11). अब कुछ मात्रा में Formalin डालें, ध्यान रहे ज्यादा मात्रा में डालना खतरनाक हो सकता है.
12). अब इसमें रंग (Color) डालें और कम से कम 5 मिनट तक अच्छी तरह से मिलाते रहे.
13). अब इसमें परफ्यूम (Perfume) डालें और फिर से कम से कम 5 मिनट तक मिलाते रहें.
14). 5 चम्मच एलोवेरा जेल डालें.
15). 5 चम्मच विटामिन ई (Vitamin E)
16). दो चम्मच ग्लिसरीन डालें.

Shampoo ka Business kaise start kre in Hindi

 

एलोवेरा जेल, विटामिन ई और ग्लिसरीन डालने के बाद इसे बहुत अच्छी तरह से मिला लें और अब कुछ घंटों के लिए उसे ऐसे ही छोड़ दें. कुछ घंटो बाद आप इसे पैक करना शुरू कर सकते हैं, ताकि बाजार में इन्हें बेकने के लिए भेजा जा सके.
आपको शुरुआत में इसमें बुलबुले से उठते हुए दिखाई देंगे लेकिन यह 24 घंटे बाद बिल्कुल खत्म हो जाएंगे, जिसके बाद आपको इनकी पैकिंग शुरू कर देनी है.

 

Conclusion:

यह बिजनेस आप 2000रु. तक में ही शुरू कर सकते हैं और कुछ ही महीनों में आप profit के हिसाब से इन्वेस्टमेंट (investment) बढ़ा सकते हैं.
आपको मार्केटिंग के लिए मेहनत करनी पड़ेगी और साथ ही साथ वेबसाइट और एडवरटाइजिंग (advertising) पर भी ध्यान देना होगा.
शॉपिंग मॉल्स (Shopping malls),छोटी-बड़ी कॉस्मेटिक दुकानों, मेडिकल स्टोरों आदि से संबंध बनाने शुरू करें. हो सके तो शुरुआत में मार्केट पर पकड़ बनाने के लिए कुछ डिलीवरी फ्री में दे.

 

शैंपू बनाने की मशीने (Shampoo making Machines):

अगर आप कंपनी को एक बड़े मुकाम पर ले जाना चाहते हैं और आपके पास इन्वेस्टमेंट के लिए अच्छा बैंक बैलेंस है तो आप शैंपू मैनुफैक्चरिंग (manufacturing) के लिए मशीनें भी खरीद सकते हैं जिससे आपकी लेवर (Labor) तो कम होगी ही और क्वालिटी पर भी अच्छा प्रभाव देखने को मिलेगा.

1). YX series PMC shampoo Machine (Shampoo blending tank):

यह मशीन liquid डिटरजेंट जैसे कि शैंपू क्रीम आदि बनाने में उपयोगी है, जिसमें integrating blending, dispersing, heating और cooling जैसे कार्य होते हैं.

Shampoo ka Business kaise start kre in Hindi

 

2). Pneumatic diaphragm pumps:

PMC मशीन से निकला हुआ final product इस पंप से होकर गुजरता है जो PMC मशीन के निचले हिस्से से जुड़ा हुआ होता है.

3). Steam Boiler:

शैंपू मशीन को गर्म करने के लिए steam boiler यूज़ किया जाता है. इसकी work power consumption सिर्फ 16.5 किलोवाट होती है, जबकि इलेक्ट्रिकल रोड हीटर की 47.5 किलोवाट होती है.

Shampoo ka Business kaise start kre in Hindi

 

4). Storage tanks:

इन टैंकों में फाइनल बना हुआ शैंपू यूज़ किया जाता है.

5). Self suction filling machine:

इस मशीन से बोतलों में अपने आप बिल्कुल सही वजन के हिसाब से शैंपू भरा जाता है.

6). Screw capping machine:

यह मशीन भरी हुई बोतलों के ढक्कन लगाने का काम करती है.

Shampoo ka Business kaise start kre in Hindi

 

7). Labeling machine:

जब बोतल है पूरी तैयार हो जाती है तो इस मशीन के द्वारा बोतलों के ऊपर दोनों तरफ से कंपनी का लेबल लगाया जाता है.
“Shampoo ka Business kaise start kre in Hindi/शैंपू बनाने का अपना बिजनेस शुरू करें” Ummed h article aapko pasand aaya hoga.

मेरी शुभकामनाएं !!

अगर आपका कोई भी सवाल है तो आप मुझे यहां कमेंट भी कर सकते हैं.

Thanks a lot to be BusinessBharat Blog Reader…

Hope you enjoy & Learn..!!

 

Leave a Reply