Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

Bath Soap ka Business kaise start kre in Hindi/ साबुन बनाने का अपना बिजनेस शुरू करें

Bath Soap ka Business kaise start kre in Hindi

Bath Soap ka Business kaise start kre in Hindi/ साबुन बनाने का अपना बिजनेस शुरू करें:

क्या आप भी कोई बिजनेस शुरू करने का ख्वाब देखते हैं, तो चलिए आज हम बात करते हैं Bath soap (नहाने के साबुन) के बिजनेस के बारे में Bath Soap ka Business kaise start kre in Hindi.
कोई भी बिजनेस शुरु करने के लिए आपको उसके लिए समय और एक अच्छी तैयारी तो करनी पड़ती है और मैं यहां आपको कुछ ऐसी महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहा हूं जो आपके लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होने वाली है.

आप साबुन बनाने का बिजनेस बहुत छोटे स्तर से भी शुरू कर सकते हैं या यूं कहिए तो अपने घर से ही. मेरी सलाह भी यही रहेगी कि आप इसे छोटे स्तर से ही शुरुआत करें और धीरे-धीरे जब आपकी मार्केट में पकड़ बने और आपके प्रोडक्ट में क्वालिटी आने शुरू हो, तब आप अपने बिजनेस को और बड़ा कर सकते हैं.

साबुन बनाने के लिए कुछ सामान्य बातें:

साबुन बनाने के कई तरीके हो सकते हैं बहुत सरल भी और मुश्किल भी, यह आप पर निर्भर करता है. साबुन की सुंदरता उन सभी तत्व (पदार्थों) पर निर्भर करती है जो आप साबुन बनाने के लिए उपयोग करते हैं. इसकी adjustment कुछ मुश्किल काम नहीं होता बस थोड़ी प्रैक्टिस की जरुरत होती है और जो पदार्थ आप साबुन के लिए यूज कर रहे हैं अगर उन्हें सही मात्रा में तोलकर डाला जाए तो यह बेहतर साबित हो सकता है.

What is Lye (लाई क्या है..??)

Bath Soap ka Business kaise start kre in Hindi

 

साबुन बनाने में लाई का अहम रोल होता है जो कि सोडियम या पोटेशियम हाइड्रोक्साइड का solution होता है. आपको हमेशा 100% शुद्ध सोडियम हाइड्रोक्साइड यूज़ करना चाहिए वह भी crystal form में (ना की liquid).

लाई कास्टिक है:

लाई का इस्तेमाल करते वक्त हाथों के दस्ताने और आंखों के लिए चश्मा यूज़ करना चाहिए वरना आपके हाथों की स्किन (skin) जल सकती है.
जब आप लाई को पानी में डालते हैं तो 30 सेकेंड से 1 मिनट तक गर्मी (heat) पैदा होती है, लेकिन चिंता ना करें यह सिर्फ कुछ ही मिनट में ही खत्म हो जाएगी. याद रखें हमेशा लाई में ही पानी मिलाए, ना कि पानी में लाई और थोड़ा दूरी बनाकर मिलाते रहे.
लाई एक कास्टिक होती है जो साबुन बनाने के तेल के साथ क्रिया करता है. इस क्रिया को saponification कहते हैं, लेकिन जब आपका साबुन पूरी तरह बन कर तैयार हो जाता है तो इसमें लाई नहीं रहेगी.

Equipments (आवश्यक बर्तन):

Bath Soap ka Business kaise start kre in Hindi

साबुन बनाने के लिए कभी भी खाना बनाने वाले बर्तनों का उपयोग ना करें, हमेशा Stainless steel, tempered glass और enamel का प्रयोग करें. भूल कर भी aluminium या copper का यूज ना करें क्योंकि यह लाई के साथ अभिक्रिया करेंगे. चम्मच के लिए भी styrene plastic या Silicon का यूज़ करें, सामान्य प्लास्टिक का यूज़ ना करें.
एक 90 डिग्री से 200 डिग्री तक का stainless steel का थर्मामीटर और एक पुरानी तौलिया भी शामिल करें.

Herbs (जड़ी बूटी):

सभी herbs सुखी होने चाहिए. सबसे ज्यादा Lavender यूज़ किया जाता है और सिर्फ 1/4 cup ही यूज़ करना है.

आवश्यक तेल (oils):

यहां वनस्पति तेलों का ही उपयोग करें जो जड़ों फूलों या बीजों से निकलता हो. आपको सिर्फ तेल की 15-20 या फिर एक चम्मच हर batch में यूज़ करना है.

रंग (Colors):

नेचुरल रंगों का इस्तेमाल बहुत ही आसान होता है. ब्राउन साबुन के लिए Cinnamon या cocoa powder, हरे रंग के लिए Chlorophyll
powder, पीले रंग के लिए turmeric और नारंगी रंग के लिए Beet root का यूज़ करें. खाने वाले रंग का इस्तेमाल करने से बचें क्योंकि
यह ज्यादा दिन तक साबुन में नहीं टिक पाते.

अन्य सामग्री:

एलोवेरा जेल, सूखा दूध पाउडर, Oatmeal, clays, Cornmeal, Ground Coffee, salt.

आवश्यक घटक (Ingredients):

* 2/3 कप नारियल तेल (Coconut oil)
* 2/3 कप जैतून का तेल (Olive oil)
* 2/3 कप अन्य तरल तेल जैसे बादाम तेल (Almond oil), सूरजमुखी का तेल (Sunflower oil), grapessed
* 1/4 कप लाई (Lye)- 100% सोडियम हाइड्रोक्साइड
* 3/4 कप ठंडा पानी

साबुन बनाने का तरीका:

एक मेज पर अख़बार (Newspaper) बिछा ले. हाथों में दस्ताने और आंखों पर चश्मा पहनें. 3/4 कप पानी, 1/4 कप लाई और एक बड़ा चम्मच तैयार करें. धीरे-धीरे लाई को पानी में डालें और उसे मिलाते रहें. जब पानी से गर्मी (Heat) और बुलबुले निकलने लगे तो थोड़ा पीछे हट जाएं और पानी के सामान्य होने का इंतजार करें. एक छोटे जार में तीनों तरीके के तेल लें और माइक्रोवेव ओवन (Oven) में या फिर किसी बर्तन में डालकर 1 मिनट तक गर्म करें. तेलों का तापमान 120 डिग्री तक होना चाहिए.

जब लाई के मिश्रण का तापमान और तेलों का तापमान 95 से 105 degree तक हो जाए तो धीरे-धीरे एक बर्तन में लाई और तेलों को मिलाएं और 5 मिनट तक मिलाते रहे. अब मिश्रण में herbs और वनस्पति तेल मिलाएं और अच्छे से चलाते रहें.
मिश्रण को Mold में डालें और प्लास्टिक कवर से ढक दें और एक पुरानी तौलिया उसके चारों तरफ से लपेट दें.

Bath Soap ka Business kaise start kre in Hindi
अब यहां से Saponification प्रक्रिया शुरू होती है. आधारभूत घटकों से साबुन बनाने की प्रक्रिया Saponification कहलाती है.
24 घंटे बाद साबुन को चैक करें, अगर यह गर्म और मुलायम है तो 12 से 24 घंटों के लिए छोड़ दें. जब ठंडे और सख्त हो जाएं तो साइज के हिसाब से काट ले.

अब इसे किसी साफ जगह पर (जहां धूल मिट्टी ना हो) कम से कम 1 हफ्ते के लिए हवा लगने के लिए रख दें. जब आप का साबुन पूरी तरह से सूख जाए तो इसे wax पेपर में लपेटकर पैकिंग करना शुरू कर सकते हैं और मार्केट के लिए भेज सकते हैं.

Insurance:

जब आप कोई प्रोडक्ट बेचते हैं या फिर कोई सर्विस देते हैं तब आपको अपनी संपत्ति और बिजनेस फंड की सुरक्षा के लिए इंश्योरेंस (बीमा) बहुत जरूरी हो जाता है. यह बहुत सी बातों से आप को बचाता है जैसे की चोरी हो जाना, आग लग जाना आदि, तो ध्यान रहे कि अपनी कंपनी का इंश्योरेंस जरूर करा लें.

Advertising:

जब कभी भी कोई नई चीज मार्केटिंग में उतरती है तो उसकी sell एडवरटाइजिंग से ही शुरू होती है. आप छोटे-बड़े बैनर लगवा सकते हैं जिन्हें पब्लिक प्लेस जैसे मेट्रो/ रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, पब्लिक मॉल आदि जगहों पर लगवा सकते हैं.

Machines:

अगर आप बड़े स्तर से शुरुआत करना चाहते हैं या फिर एक दो साल बाद आप मशीनें भी लगा सकते हैं. मशीनें लगाने के लिए सबसे पहले जगह का इंतजाम करना होगा. मशीन लगाने से मैन पावर कम और प्रोडक्शन टाइम भी save होगा. यहां मैं आपको मशीनों की लिस्ट दे रहा हूं जो साबुन बनाने के लिए ही बनाई गई है.

1). Sigma Mixer
2). Tripple Roll Mill
3). Extruder
4). Online Cutter

तो यह तो था साबुन बनाने का सबसे अच्छा और क्वालिटी तरीका. आपको अपने बिजनेस के लिए बहुत सी बातों का ध्यान रखना होगा जैसे साबुन की कीमत, क्वालिटी, जिनमें क्वालिटी सबसे अहम है. यह बिजनेस आप बहुत ही कम लागत में और अपने घर से ही आसानी से शुरू कर सकते हैं.
अपने साबुन की कीमत तय करें और ऐसा भी ना हो की हद से ज्यादा ही सस्ता कर दें, ज्यादा सस्ती चीजें भी तो लोगों को पसंद नहीं आती ना.

तो बहुत बहुत धन्यवाद आपका और हां कुछ भी सवाल हो तो आप मुझे नीचे कमेंट भी कर सकते हैं, हम से जुड़े रहिए.

मेरी शुभकामनाएं !!

Thanks a lot to be BusinessBharat Blog Reader…

Hope you enjoy & Learn..!!

Leave a Reply